मेरी आवाज़ सुनो

इंसाफ़ के दरवाज़े पर तमिलनाडु की महिलाओं की दस्तक

Justice K. Chandru

Translated by Bhuvendra Tyagi

Introduction by Githa Hariharan

978-93-92017-09-4

वाम प्रकाशन, New delhi, 2022

Language: Hindi

119 pages

5.5 x 8.5 inches

Price INR 250.00
Book Club Price INR 175.00
INR 250.00
In stock
SKU
LWB1378

यह किताब कुछ बहादुर महिलाओं के बारे में है।

बहादुर इसलिए कि हमारे देश में किसी व्यक्ति का अदालत जाना ही कठिन है, महिलाओं के लिए तो यह और भी मुश्किल है क्योंकि उन्हें परिवार से इसके लिए आर्थिक और भावनात्मक सहयोग नहीं मिलता। सामाजिक परंपराएं और महिलाओं की सामाजिक स्थिति भी इसके अनुकूल नहीं है। वर्तमान न्यायिक तंत्र से भी उन्हें इसके लिए प्रोत्साहन नहीं मिलता। यह एक ऐसी किताब है, जो हर महिला और लिंग आधारित भेदभाव से घृणा करने वाले व्यक्ति से शिद्दत से बतियाती है।

जस्टिस के. चंद्रू एक वकील और मद्रास उच्च न्यायालय के पूर्व जज हैं। जज के रूप में उन्होंने क़रीब 96 हजार मामलों की सुनवाई की जो एक रेकॉर्ड है। चर्चित तमिल फिल्म जय भीम (निर्देशक टीजे ज्ञानवेल) 1993 के उस केस पर आधारित है, जिससे जस्टिस चंद्रू वकील के रूप में जुड़े थे। फिल्म में उनकी भूमिका तमिल सुपरस्टार सूर्या ने निभाई थी। जस्टिस चंद्रू तमिल और अंग्रेजी में लिखते हैं।

Bhuvendra Tyagi

भुवेन्द्र त्यागी हिंदी के चर्चित लेखक-अनुवादक और पत्रकार हैं। विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में उनके लेख और टिप्पणियां प्रकाशित होती रही हैं। उन्होंने अंग्रेजी की कई रचनाओं का हिंदी में और हिंदी की कई रचनाओं का अंग्रेजी में अनुवाद किया है। उनकी प्रमुख पुस्तकें हैं – दहशत के 60 घंटे और ये है मुंबई।

Githa Hariharan

Githa Hariharan's work includes novels, short stories, essays, newspaper articles and columns. Her first novel – The Thousand Faces of Night – won the Commonwealth Writers' Prize in 1993. Since then, she has published the novels The Ghosts of Vasu Master, When Dreams Travel, In Times of Siege, and Fugitive Histories, a collection of short stories, The Art of Dying, and a book of stories for children, The Winning Team. For more on her work, see www.githahariharan.com. Githa Hariharan is a member of the Palestine Solidarity Committee in India, and a convenor of the Indian Campaign for the Academic and Cultural Boycott of Israel (InCACBI).


Justice K. Chandru

JUSTICE K. CHANDRU is an advocate and former judge of Madras High Court. He disposed of 96,000 cases during his tenure as a Judge. A 1993 case that Chandru argued as a lawyer is the subject of the hit Tamil film Jai Bhim (2021, dir. T.J. Gnanavel), in which his character is played by the actor Suriya. He writes in Tamil and English, and his previous book was the bestselling Listen to My Case!: When Women Approach the Courts of Tamil Nadu (LeftWord, 2021).